Ankhiyon Ke Jharokhon Se Hindi lyrics


Ankhiyon Ke Jharokhon Se Hindi lyrics- अँखियों के झरोखों से

Ankhiyon Ke Jharokhon Se Hindi lyrics Title Track, sung by Hemlata. This old romantic song is written and music composed by Ravindra Jain. Starcast Sachin, Ranjeeta, Rajendranath, Harindranath Chatterjee, Ritu Kamal, Tuntun.

Ankhiyon Ke Jharokhon Se

Hindi Song Lyrics

 

Song :- Ankhiyon Ke Jharokhon Se
Movie :- Ankhiyon Ke Jharokhon Se (1978)
Singer :- Hemlata
Music :- Ravindra Jain
Lyrics :- Ravindra Jain
Cast :- Sachin Pilgaonkar, Ranjeeta
Director :- Hiren Nag

Ankhiyon Ke Jharokhon Se

Hindi Song Lyrics

 

अँखियों के झरोखों से मैंने देखा जो साँवरे
अँखियों के झरोखों से मैंने देखा जो साँवरे
तुम दूर नज़र आए, बड़ी दूर नज़र आए
बंद करके झरोखों को, ज़रा बैठी जो सोचने
बंद करके झरोखों को, ज़रा बैठी जो सोचने
मन में तुम्हीं मुस्काए, मन में तुम्हीं मुस्काए
अँखियों के झरोखों से…

इक मन था मेरे पास वो, अब खोने लगा है
पाकर तुझे, हाय मुझे, कुछ होने लगा है
इक तेरे भरोसे पे, सब बैठी हूँ भूल के
इक तेरे भरोसे पे, सब बैठी हूँ भूल के
यूँही उम्र गुज़र जाए, तेरे साथ गुज़र जाए
अँखियों के झरोखों से…

जीती हूँ तुम्हें देख के, मरतीहूँ तुम्हीं पे
तुम हो जहाँ, साजन, मेरी दुनिया है वहीं पे
दिन रात दुआ माँगे, मेरा मन तेरे वास्ते
दिन रात दुआ माँगे, मेरा मन तेरे वास्ते
कभी अपनी उम्मीदों का, कोई फूल न मुरझाए
अँखियों के झरोखों से…

मैं जब से तेरे प्यार के, रंगों में रंगी हूँ
जगते हुए, सोई रही, नींदों में जगी हूँ
मेरे प्यार भरे सपने, कहीं कोई न छीन ले
मेरे प्यार भरे सपने, कहीं कोई न छीन ले
मन सोच के घबराए, यही सोच के घबराए
अँखियों के झरोखों से मैंने देखा जोसाँवरे

तुम दूर नज़र आए, बड़ी दूर नज़र आए
बंद करके झरोखों को, ज़रा बैठी जो सोचने
मन में तुम्हीं मुस्काए, मनमें तुम्हीं मुस्काए

Ankhiyon Ke Jharokhon Se

Hindi Song Lyrics

Ankhiyo ke jharoko se maine dekha jo sanware
Tum dur najar aaye badi dur najar aaye
Band karke jharoko ko jara baithee jo sochne
Mann me tumhi muskaye – (2)
 Ankhiyo ke jharoko se………

Ek mann tha mere pas, woh abb khonelaga hai
Pakar tujhe hai mujhe kuchh hone laga hai
Ek tere bharose pe sab baithi hu bhul ke
Yuhi umar gujar jayey tere sath gujar jayey
 Ankhiyo ke jharoko se………

 Jiti hu tujhe dekh ke, marti hutumhi pe
Tum ho jahan sajan meri dooniya hai wahin pe
Din rat duwa mange mera mann tere waste
Kabhi apni ummdo kaa kahi phul naa murjhaye
 Ankhiyo ke jharoko se………

Main jab se tere pyar ke rango me rangi hu
Jagte huye soyi nahee nindo me jagi hu
Mere pyar bhare sapne kahi koyi naa chhin le
Mann soch ke ghabraye, yahi soch ke ghabraye
 Ankhiyo ke jharoko se………


Leave a Reply

Your email address will not be published.